वाराणसी। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर गृह मंत्री अमित शाह के बाद अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी साफ और कड़े शब्दों में कह दिया है कि दवाब के बावजूद भी सरकार अपने फैसले पर अडिग है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वाराणसी दौरे पर हैं। पीएम ने तीन ज्योर्तिलिंगों को जोड़ने वाली महाकाल एक्सप्रेस और पंडित दीनदयाल की प्रतिमा का लोकार्पण किया। इसके अलावा 1200 करोड़ रुपयों की परियोजनाओं की सौगात दी।

https://platform.twitter.com/widgets.js

क्या-क्या हुआ ?

चंदौली से पहले मोदी जंगमबाड़ी मठ पहुंचे। वहां से निकलने के बाद पीएम करीब साढे बारह बजे बीएचयू हेलीपैड पहुंचे। इस दौरान एक युवक ने पीएम मोदी को काला झंडा दिखाया। युवक की पहचान सपा के पूर्व जिलाध्यक्ष अजय यादव के रूप में हुई है।

https://platform.twitter.com/widgets.js

बनारस और भदोही की कारपेट, सिल्क साड़ी, चंदौली का काला चावल, लकड़ी के खिलौने, फिरोजाबाद का कांच, आगरा के जूते, लखनऊ के चिकन कारीगरी, गुलाबी मीनाकारी, आजमगढ़ की ब्लैक पॉटरी, कन्नौज का इत्र, मुरादाबाद की धातु आदि कुल 26 जीआई उत्पाद का प्रधानमंत्री ने अवलोकन किया। साथ में राज्यपाल आनंदी बेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सिंह, कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह, राज्यमंत्री उदयभान सिंह, कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर और उत्तर प्रदेश इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन की अध्यक्षा क्षिप्रा शुक्ल ने अवलोकन किया।

सरकार का फैसला अडिग

नागरिकता संशोधित कानून 2019 को लेकर पीएम ने साफ और कड़े शब्दों में कहा कि भारी दवाब के बावजूद भी सरकार का फैसला अडिग है। उन्होंने कहा चाहे धारा 370 हो या सीएए ये सब देशहित के लिए थे और हम फैसले के साथ खड़े रहेंगे।

अब काशी में बाबा के दर्शन के बाद, उज्जैन में महाकाल के दर्शन कर पाएंगे

पीएम मोदी ने कहा कि बाबा विश्वनाथ की नगरी को ओंकारेश्वर और महाकालेश्वर से जोड़ने वाली काशी-महाकाल एक्सप्रेस को भी हरी झंडी दिखाई गई है। काशी में बाबा के दर्शन के बाद, उज्जैन में महाकाल के दर्शन कर पाएंगे। इसी ट्रेन में आगे बढ़कर इंदौर में ओंकारेश्वर में श्रद्धासुमन अर्पित कर पाएंगे। BHU में आज जिस सुपर स्पेशिएलिटी अस्पताल का लोकार्पण हुआ है, उसका शिलान्यास 2016 के आखिरी में, मैंने ही किया था। सिर्फ 21 महीने में 430 बेड का ये अस्पताल बनकर काशी और पूर्वांचल के लोगों की सेवा के लिए तैयार हुआ है। जल जीवन मिशन के तहत आने वाले 5 वर्षों में हर घर तक जल पहुंचाने के लिए हमें पूरी शक्ति से काम करना है। मैं आश्वस्त करता हूं कि इस काम में न तो बजट आड़े आएगा और न सरकार के इरादे कमजोर होंगे। हमारी सरकार समाज की आखिरी पंक्ति में खड़े व्यक्ति तक विकास के लाभ पहुंचाने के लिए लगातार काम कर रही है। 50 करोड़ से अधिक देशवासी जिन्हें आज आयुष्मान भारत योजना से 5 लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज सुनिश्चित हुआ है, वो 70 वर्षों से विकास के आखिरी पायदान पर रहे लोग ही हैं।

अयोध्या में भी श्रीराम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर के निर्माण के लिए ट्रस्ट का गठन हो चुका है: पीएम मोदी

पीएम मोदी  ने कहा कि आज काशी आने वाला हर श्रद्धालु सुखद अनुभव लेकर यहां से जाता है। कुछ दिन पहले श्रीलंका के राष्ट्रपति भी यहां आए थे, तो यहां के अद्भुत वातावरण, दिव्य अनुभूति से बहुत मंत्रमुग्ध थे। सोशल मीडिया में उन्होंने काशी के साथियों की बहुत प्रशंसा की है। काशी विश्वनाथ धाम में तमाम कार्य तेजी से पूरे किए जा रहे हैं। बहुत ही जल्दी से बाबा का दिव्य प्रांगण एक आकर्षक और भव्य रूप में हम सभी के सामने आएगा। इसी तरह अयोध्या में भी श्रीराम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर के निर्माण के लिए ट्रस्ट का गठन हो चुका है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा आने वाली पीढ़ियों को करेगी प्रेरित

पीएम मोदी ने कहा कि मां गंगा जब काशी में प्रवेश करती हैं, तो वो उन्मुक्त होकर अपनी दोनों भुजाओं को फैला देतीं हैं। एक भुजा पर धर्म, दर्शन और आध्यात्म की संस्कृति विकसित हुई है और दूसरी भुजा, यानि इस पार, सेवा, त्याग, समर्पण और तपस्या, मूर्तिमान हुई है। आज इस क्षेत्र, दीनदयाल जी की स्मृति स्थली का जुड़ना, अपने नाम पड़ाव की सार्थकता को और सशक्त कर रहा है। ऐसा पड़ाव जहां, सेवा, त्याग, विराग और लोकहित सभी एक साथ जुड़कर एक दर्शनीय स्थल के रूप में विकसित होंगे। पं. दीनदयाल जी की आत्मा हमें हमेशा प्रेरणा देती रहती है। दीनदयाल उपाध्याय जी ने हमें अंत्योदय का मार्ग दिखाया था। यानि जो समाज की आखिरी पंक्ति में हैं, उसका उदय। 21वीं सदी का भारत, इसी विचार से प्रेरणा लेते हुए अंत्योदय के लिए काम कर रहा है।