कांगड़ा। गग्गल एयरपोर्ट के विस्तारीकरण का विरोध करने वालों को हिमाचल सरकार ने स्पष्टीकरण दिया है। धर्मशाला में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर नूरपुर से भाजपा विधायक राकेश पठानिया ने कहा कि एयरपोर्ट का विस्तारीकरण प्रदेश के हित में है। इस दौरान धर्मशाला से विधायक विशाल नैहरिया भी वहां मौजूद रहे।

राकेश पठानिया ने कहा कि गग्गल एयरपोर्ट का विस्तार होने से हिमाचल के विकास को पंख लगेंगे। विस्तार होने से जो परिवार विस्थापित होंगे उन्हें बतौर मुआवजा 760 करोड़ रुपये देने का प्रस्ताव सरकार ने बना लिया है। उन्होंने कहा कि पहले लोगों को मुआवजा मिलेगा और बाद में एयरपोर्ट का विस्तार किया जाएगा।

विस्थापितों के लिए सरकार टाउनशिप विकसित करेगी। लोगों को ये चिंता बिल्कुल नहीं रहेगी कि वे कहां रहेंगे। जयराम सरकार प्रभावित लोगों को फैक्टर वन के तहत मुआवजा देने को लेकर विचार कर रही है। 

आपको बता दें कि विस्तारीकरण के लिए एयरपोर्ट अथॉरिटी आफ इंडिया ने सरकार से 160 हेक्टेयर जमीन मांगी थी। ज्यादा लोग न उजड़ें इसलिए जयराम सरकार ने 160 नहीं बल्कि 140 हेक्टेयर जमीन के अधिग्रहण का प्रस्ताव बनाया है।

पठानिया ने कहा कि विस्तारीकरण के तहत जो प्रस्ताव बनाया गया है उसकी जद में शाहपुर विधानसभा क्षेत्र के तहत बैदी, ढुगियारी, सनौरा, गगल, बाग, बरसवालकड़, सहौड़ा, बल्ला, मुंगरेहड़, झिकली इच्छी जबकि कांगड़ा विस क्षेत्र के तहत रछियालू, जुगेहड़, कियोड़ियां और बड़ोल राजस्व गांव आएंगे।