शिमला। चलिए आपको शुरू से बताते हैं। पहले राजीव बिंदल विधानसभा अध्यक्ष थे। जब वो हिमाचल भाजपा अध्यक्ष बने तो भाजपा के संविधान के अनुसार उन्हें संवैधानिक पद छोड़ना पड़ा। ऐसे में विधानसभा अध्यक्ष की कुर्सी खाली हो गई। अब प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री विपिन परमार को विधानसभा का अध्यक्ष बनाया जा रहा है इसलिए उन्हें प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री के पद से इस्तीफा देना पड़ा। विपिन परमार ने अध्यक्ष पद के लिए नामांकन भरा इस दौरान सीएम जयराम ठाकुर और शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज मौजूद रहे। राज्यपाल के अभिभाषण के बाद परमार ने अध्यक्ष पद के लिए नामांकन भरा। 26 फरवरी को चुनाव होगा।

आपको बता दें कि विपिन परमार कांगड़ा की सुलह विधानसभा सीट से भाजपा के विधायक हैं। विपिन परमार के अध्यक्ष बनने के बाद जयराम कैबिनेट में तीन मंत्री पद खाली हो गए हैं।