शिमला। बजट सत्र के दूसरे दिन मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री के बीच सेवा विस्तार के मुद्दे पर बहस हुई। मुकेश अग्निहोत्री ने मांग की कि सेवा विस्तार पर पूरी तरह से रोक लगाई जाए। इसके बाद कांग्रेस के विधायकों ने सदन में हंगामा किया।

सीएम जयराम ने दिया जवाब

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि सेवा विस्तार नियमानुसार किया गया है। सीएम ने जानकारी देते हुए कहा कि 2015 से लेकर 2018 तक 1160 अधिकारियों के सेवा विस्तार पर 28.32 करोड़ रुपये खर्च किए गए हैं। जिनमें पूर्व सीएम के साथ काम करने वाले लोग भी शामिल हैं।