नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस ने रविवार को इस्लामिक स्टेट खुरासान प्रॉविंस (आईएसकेपी) मॉड्यूल से जुड़े कश्मीरी दंपति को गिरफ्तार किया। डीसीपी प्रमोद सिंह कुशवाहा ने जानकारी देते हुए बताया कि श्रीनगर के जहांजेब सामी और हीना बशीर बेग को जामिया नगर से गिरफ्तार किया गया है। ये दोनों सीएए के खिलाफ प्रदर्शन का इस्तेमाल मुस्लिम युवाओं को भड़काकर आतंकी हमले के लिए करना चाहते थे। आरोपियों के पास से जिहादी दस्तावेज बरामद हुए हैं। दोनों पति-पत्नी अफगानिस्तान में आईएसकेपी के टॉप लीडर्स के संपर्क में थे।

जानकारी के अनुसार खुफिया एजेंसी को जहांजेब के आतंकी संगठन आईएसकेपी से जुड़े होने की जानकारी मिली थी। जहांजेब फिदायीन हमले को अंजाम देने की फिराक में था। इसके लिए वो हथियार जुटा रहा था। 

जहांजेब सामी की पत्नी हीना बशीर बेग भी सोशल मीडिया पर आईएस का समर्थन करने वाले हैंडल पर सक्रिय थी। वह आतंकी गतिविधियों के लिए सही लोगों की पहचान में जुटी थी। प्राथमिक पूछताछ में जहांजेब ने बताया कि वह आईएस की मैग्जीन स्वात-अल-हिंद के फरवरी महीने के संस्करण को प्रकाशित करवाने में शामिल था। इसमें सीएए का विरोध कर रहे लोगों को जिहादी रास्ता अपनाने की अपील की गई थी। इस मैग्जीन को 24 फरवरी को ऑनलाइन जारी किया गया था। इसमें लिखा था कि लोकतंत्र आप लोगों को नहीं बचा पाएगा।