नई दिल्ली। कोरोना वायरस के कारण देश में दूसरी मौत राजधानी दिल्ली में हुई है। पश्चिमी दिल्ली में 68 वर्षीय महिला ने शुक्रवार को दम तोड़ दिया। स्वास्थ्य सचिव प्रीति सूदन ने बताया कि दिल्ली में कोरोना वायरस से पहली मौत हुई है। दिल्ली की 68 वर्ष से ज्यादा आयु की महिला की मौत हुई है। यह भारत में कोरोना वायरस से दूसरी मौत है।

महिला का बेटा भी कोरोना वायरस से संक्रमित है। बताया जा रहा है कि महिला को पहले से डायबीटीज़ और हाइपरटेन्शन भी था।

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के चलते गुरुवार को कर्नाटक के कलबुर्गी में पहली मौत हुई थी. ये व्यक्ति 76 साल के थे और कुछ दिन पहले ही सऊदी अरब से भारत लौटे थे.

आपको बता दें कि इस मौत के साथ ही देश में अब तक कोरोना वायरस के 87 मामलों की पुष्टि हो चुकी है।

प्रदेश सरकार में स्वास्थ्य मंत्री बी श्रीरामलू ने कहा है कि मरीज की कोरोना वायरस संक्रमण की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी और इन्हें दूसरों से अलग रखा गया था।

ये व्यक्ति इलाज के लिए तेलंगाना में एक अस्पताल में भी गया। इस कारण कर्नाटक सरकार ने तेलंगाना सरकार को भी इसकी सूचना दे दी है।

दिल्ली में स्कूल-कॉलेज, सिनेमा हॉल 31 मार्च तक बंद कर दिया गए हैं। कोरोना वायरस के चलते उत्तराखंड के भी सभी स्कूलों को 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिया गया है। कई खेल कार्यक्रम रद्द या स्थगित कर दिए गए हैं, लेकिन इन सबके बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कोरोना से ना घबराने की अपील भी की है।

कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए भारत ने दुनिया के किसी भी देश से आने वाले लोगों का वीज़ा 15 अप्रैल तक सस्पेंड कर दिया है। कार्ड होल्डर को दी जाने वाली वीज़ा मुक्त यात्रा की सुविधा भी 15 अप्रैल तक के लिए रोक दी गई है। ये रोक सभी हवाईअड्डों और बंदरगाहों पर 13 मार्च की रात 12 बजे से लागू हो जाएगी।