चंडीगढ़/शिमला। कोरोना वायरस के खिलाफ हिमाचल सरकार सख्ती से निपट रही है। हिमाचल में कोरोना के अब सभी टेस्ट भी नेगेटिव आ रही है, लेकिन इसी बीच एक ऐसी अफवाह प्रदेश में फैली जिसने पूरे देश में राज्य सरकार का दुष्प्रचार करने का कार्य किया।

दरअसल अफवाह ये थी कि चंडीगढ़ स्थित हिमाचल भवन में अधिकारियों और रसूखदारों के बच्चों को ठहराया गया है। आम जनता के बच्चों को यहां जगह नहीं मिल रही है, लेकिन ऐसा नहीं है। हिमाचल में फिलहाल कुल 5 लोग ठहरे हुए हैं जिनमें चंबा के सलूणी का 22 वर्षीय युवक भी है जो बहुत ही सामान्य परिवार से ताल्लुक रखता है।

धर्मशाला के छारी गांव की रहने वाली प्रिया भी सामान्य परिवार से ताल्लुक रखती हैं और फिलहाल हिमाचल भवन में ठहरी हुई हैं। चंडीगढ़ स्थित हिमाचल भवन में कुल 90 लोगों के ठहरने की व्यवस्था की गई है जिनमें से 85 बेड अभी भी खाली हैं। वहां पर हिमाचल के सिर्फ 5 लोग ठहरे हुए हैं। आपको बता दें कि सोमवार को जयराम सरकार ने हिमाचल भवन में हिमाचलियों के ठहरने की व्यवस्था को लेकर ओएसडी की तैनाती की है। गौरतलब है कि सीएम जयराम लगातार हिमाचल में कोरोना वायरस की स्थिती और हिमाचल से बाहर फंसे हुए हिमाचलियों को लेकर चिंता व्यक्त करते रहते हैं।