कुल्लू। आपको सरकार पर भी निर्भर नहीं रहना होगा बल्कि खुद भी जिम्मेदार नागरिक बनकर आगे आना चाहिए। ऐसा ही कुछ कर दिखाया है कि कुल्लू के लोगों ने। जिले की उझी घाटी में ग्रामीणों ने कोरोना वायरस से लड़ने के लिए खुद मोर्चा संभाला हुआ है और सोशल डिस्टेंसिंग का भी खूब ध्यान रखा जा रहा है।

ये भी पढ़ें : हिमाचल में 9 जमातियों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव

कुल्लू की सोयल पंचायत में ग्रामीणों ने पड़ोसी पंचायतों के साथ मिलकर हाथ में लाठी डंडे लेकर पहरा देना शुरू कर दिया है। ये पहरा इसलिए दिया जा रहा है ताकि कोई भी बाहरी यहां प्रवेश न करे। गांव की महिलाएं और पुरुष हाथ में डंडा लेकर पहरा दे रहे हैं।

Subscribe News Junction Youtube Channel

ग्रामीणों का कहना है कि जब तक कोरोना का संकट खत्म नहीं हो जाता तब तक न कोई तो किसी को रिश्तेदार यहां आएगा और न ही कोई पर्यटक। इस फैसले का सख्ती से पालन हो इसके लिए गांव के लोग खुद पहरा दे रहे हैं।