शिमला। रविवार को पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह और विपक्ष के नेता मुकेश अग्निहोत्री समेत कांग्रेस नेताओं ने राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा। कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि 3 मई तक लॉकडाउन है और कर्फ्यू लगा हुआ है। बाहरी राज्यों में कई हिमाचली फंसे हुए हैं।

उन्होंने मांग करते हुए कहा कि जिस प्रकार उत्तर प्रदेश सरकार ने कोटा में फंसे छात्रों को लाने के लिए बसें भेजीं। राज्य सरकार को भी इसी तरह विशेष बस भेजकर फंसे छात्रों को लाना चाहिए।

इसके अलावा कांग्रेस नेताओं ने मांग करते हुए कहा कि कोरोना टेस्ट की सुविधा अन्य लैब में भी शुरू की जानी चाहिए ताकि ज्यादा से ज्यादा टेस्ट हों। मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि अगर जरूरत पड़े तो सरकार को पर्यटन विभाग के होटल और गेस्ट हाउस को क्वारंटीन सेंटर बनाए।

हिमाचल के पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने कोरोना के खिलाफ उठाए गए कदमों को लेकर जयराम सरकार की सराहना की। वीरभद्र सिंह ने कहा कि कोरोना जैसी महामारी से लड़ने के लिए हिमाचल सरकार ने समझदार कोशिश की। वीरभद्र सिंह ने कहा कि राज्य के बाहर फंसे हिमाचलियों को सरकार की सुविधाओं का फायदा उठाना चाहिए।