शिमला। जब मदद के सारे रास्ते बंद हो चुके थे, जब बेगाने मुल्क में फंसा हिमाचली युवक कोरोना से संक्रमित होने के बाद चिंता में डूबा था। तभी मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर युवक को वीडियो कॉल करते हैं। मुख्यमंत्री को देखकर युवक की आंखों से आंसू छलक पड़े।

क्या है पूरा मामला ?

रोजगार के लिए सऊदी अरब गया हिमाचल का युवक कोरोना महामारी के कारण वहां फंस गया और कोरोना संक्रमित भी हो गया, लेकिन बेगाने मुल्क में उसकी मदद नहीं हो पा रही थी। मंडी जिला से संबंध रखने वाले युवक ने सोशल मीडिया पर वीडियो अपलोड कर अपनी हालत के बारे में बताया।

युवक बता रहा है कि वह सऊदी अरब में फंसा ह।, वे वहां एक कंपनी पर कार्यरत है और वह कोरोना पीड़ित भी है। ऐसे में युवक ने अपनी वेदना व्यक्त करते हुए अवगत करवाया है कि उसकी वहां पर अनदेखी की जा रही है, यहां तक कि उसे भोजन भी उपलब्ध नहीं करवाया जा रहा है। यह वीडियो जब मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के पास पहुंचा तो उन्होंने इस युवक से व्हाट्सऐप पर वीडियो कॉल के माध्यम से उसका कुशलक्षेम पूछा और कहा चिंता मत करो, सरकार आपकी पूरी मदद करेगी।

इसके तुरंत बाद मुख्यमंत्री ने केंद्रीय विदेश मंत्री से फोन के माध्यम से संपर्क किया और उन्हें इस विषय से अवगत करवाया। मुख्यमंत्री ने केंद्रीय विदेश मंत्री से आग्रह करते हुए कहा कि हिमाचल से संबंध रखने वाले प्रत्येक नागरिक की सुरक्षा उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता है, इसलिए उक्त युवक को सहायता प्रदान करने के लिए यथाशीघ्र कदम उठाया जाए। उन्होंने आग्रह किया कि युवक की कंपनी तथा एंबेसी में प्राथमिकता से बात करें। इसके अलावा उन्होंने युवक के वीजा संबन्धी औपचारिकता पूरी करवाने तथा उसे वापस लाने संबन्धी पूरा खर्च उठाने का विशेष आग्रह किया है।

इतना ही नहीं सीएम जयराम ठाकुर ने एंबेसी में भी इस विषय को उजागर किया। राहत की बात यह है कि मुख्यमंत्री के आग्रह पर उक्त युवक को सहायता प्रदान की जा रही है। जानकारी यह भी है कि उसे जल्द ही वापस लाया जा सकता है और उसका सारा खर्च सरकार वहन करेगी।