हिमाचल में स्कूल और कॉलेज खोलने और शिक्षकों को बुलाने संबंधित फैसला तीस जून को लिया जाएगा। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बताया कि केंद्रीय गृह मंत्रालय की गाइडलाइन आने के बाद ही प्रदेश सरकार इस संदर्भ में फैसला लेगी। शनिवार को राज्य सचिवालय में करीब साढ़े तीन घंटे तक शिक्षा विभाग के कामकाज की समीक्षा हुई।

मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में हुई बैठक में पहली जुलाई से शुरू होने वाली ऑनलाइन पढ़ाई और कॉलेजों के अंतिम सेमेस्टर की परीक्षाओं को लेकर भी चर्चा हुई। सीएम ने बताया कि कोरोना संकट के बीच स्कूल और कॉलेज खोलने के लिए किसी भी तरह की जल्दबाजी नहीं होगी। तीस जून को दोबारा बैठक बुलाई गई है। इसमें शिक्षा विभाग के विभिन्न प्रस्तावों पर चर्चा की जाएगी।

मुख्यमंत्री ने नवीं कक्षा के करीब नब्बे हजार बच्चों को दी जाने वाली पानी की स्टील बोतलों को जल्द आवंटित करने को कहा। इसके अलावा टीजीटी की बैचवाइज भर्ती का फैसला भी अनलॉक टू में करने पर सहमति बनी। बैठक में शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज, शिक्षा सचिव राजीव शर्मा सहित सभी विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।