आजमगढ़। तरवा थाने के बांसगांव में प्रधान की हत्या के बाद आक्रोशित भीड़ ने तोड़फोड़ और आगजनी की। भीड़ ने कई वाहनों को तोड़ा और बोगरिया पुलिस चौकी को भी आग के हवाले कर दिया है।

बांसगांव में प्रधान सत्यमेव राम को घर से बुलाकर सिर में गोली मारकर हत्या कर दी गई। गांव में भारी आक्रोश है। बेकाबू भीड़ को काबू करने के लिये जिले से भारी फोर्स बुलाई गई है।

तोड़फोड़ और आगजनी के दौरान जाम भी लगाया गया। जिसमें वाहन से कुचलकर एक 16 साल के बच्चे पप्पू राम की भी मौत हो गई। आक्रोशित भीड़ को कंट्रोल करने के लिए पुलिस को हवाई फायरिंग भी करनी पड़ी।

वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना का संज्ञान लिया है। अनुसूचित जाति/जनजाति एक्ट के तहत मिलने वाली सहायता के अलावा दोनों मृतकों के परिवारों के लिए 5-5 लाख रुपये के मुआवजे का ऐलान किया। वहीं अपराधियों के विरुद्ध गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई कर उनकी संपत्ति जब्त करने और एनएसए लगाने के निर्देश दिए गए हैं। सीएम के आदेश पर थानाध्यक्ष और चौकी प्रभारी को निलंबित कर दिया है।

वहीं आजमगढ़ में ग्राम प्रधान की हत्या के बाद पुलिस ने शव को अपने कब्जे में ले लिया है। साथ ही शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।