शिमला। आज एचआरटीसी (हिमाचल पथ परिवहन निगम) के कर्मचारियों के घर में खुशी का माहौल है क्योंकि प्रबंधन ने साढ़े 11 हजार कर्मचारियों की तनख्वाह दे दी है। ये तनख्वाह जुलाई महीने की है। यूं तो कर्मचारियों की तनख्वाह एक तारीख को मिल जाती थी, लेकिन कोरोना काल में वेतन समय पर जारी नहीं हो पा रहा है। वजह है आर्थिक संकट।

कोरोना के कारण परिवहन निगम की सभी बसें काफी समय तक खड़ी रहीं इसलिए आमदनी का जरिया भी बंद हो गया था। अभी बसें चल तो रही हैं, लेकिन कोरोना के डर से लोग बसों में सफर करने से परहेज कर रहे हैं। मौजूदा समय में परिवहन निगम की कमाई से बसों का मेंटेनेंस, कर्मचारियों की तनख्वाह, डीजल का खर्च निकालना भी मुश्किल हो रहा है।