शिमला। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में अहम फैसले लिए गए। कैबिनेट ने हिमाचल प्रदेश में नई शिक्षा नीति-2020 को लागू करने को सैद्धांतिक मंजूरी दे दी है।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि नई शिक्षा नीति लागू करने में हिमाचल अग्रणी रहेगा। नई शिक्षा नीति को लागू करने  के लिए शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर की अध्यक्षता में टास्क फोर्स गठित करने को भी मंजूरी दी गई। मंत्रिमंडल ने नई शिक्षा नीति लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली केंद्र सरकार को धन्यवाद दिया।

बैठक में कहा गया कि नई शिक्षा नीति से छात्रों में गहन सोच विकसित होगी। इस नीति से रोजगार सृजन के बेहतरीन अवसर मिलेंगे। नई शिक्षा नीति छात्रों में वैज्ञानिक और गणितीय सोच को विकसित करेगी। इसके अलावा शिक्षा पर सार्वजनिक निवेश को जीडीपी के 4.43 प्रतिशत से बढ़ाकर 6 प्रतिशत कर दिया गया है। प्रदेश में इस नीति के कार्यान्वयन के लिए 27 अन्य सदस्यों और राज्य परियोजना निदेशक  के साथ इसके सदस्य सचिव के रूप में शिक्षा मंत्री की अध्यक्षता में एक टास्क फोर्स का गठन करने का भी निर्णय लिया गया।