शिमला। बीपीएल और अंत्योदय कार्ड बनाकर फर्जी गरीब बनकर गरीबों का राशन डकारने वाले करदाताओं से रिकवरी हो सकती है। हिमाचल के खाद्य आपूर्ति मंत्री राजेंद्र गर्ग ने कहा कि जांच पूरी होने के बाद ऐसे फर्जी बीपीएल और अंत्योदय कार्ड धारकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

BPL और अंत्योदय में शामिल होकर बड़े अफसर डकार रहे गरीबों का राशन, क्या आरोपियों को सजा मिलनी चाहिए ?


मंत्री ने बताया कि जब तक सस्ता राशन लिया है उसकी रिकवरी भी की जा सकती है, ताकि भविष्य में कोई भी व्यक्ति ऐसा कार्य न कर सके।
क्या है मामला ?
125 ऐसे अमीरों की पहचान हुई है जो टैक्स पे करते हैं और सरकारी नौकरी में है। इनमें से कोई डॉक्टर, अध्यापक, प्रोफेसर हैं, लेकिन इनके नाम बीपीएम और अंत्योदय कार्ड में हैं। ये लोग लंबे समय से गरीबों को मिलने वाला राशन डकार रहे थे। अब जाकर इनका खुलासा हुआ है।