शिमला। मुंबई नहीं आने की धमकी देने वालों को कंगना रनौत ने करारा जवाब दिया है। कंगना ने अपने ट्विटर पर लिखा है कि 9 सितंबर को मुंबई आ रही हूं, किसी के बाप में हिम्मत है तो रोक ले।


बॉलीवुड में ड्रग्स के काले कारोबार के मुद्दे को लेकर कंगना बेबाकी से अपनी बात रख रही हैं। हालांकि पूरा देश कंगना के साथ खड़ा है, लेकिन फिर भी उन्हें किसी प्रकार का खतरा न हो इसके लिए हिमाचल सरकार और केंद्र सरकार को विचार करना चाहिए। क्योंकि कंगना रनौत एक आम नागरिक नहीं बल्कि चर्चित चेहरा हैं।

क्या है मामला ?
दरअसल ये पूरा मामला सुशांत सिंह राजपूत केस से जुड़ा है। सुशांत सिंह और उसके परिवार को इंसाफ दिलाने के लिए कंगना रनौत लड़ाई लड़ रही हैं। इससे पहले शायद ही आपने देखा होगा कि एक एक्टर को इंसाफ दिलाने के लिए दूसरा एक्टर लड़ाई लड़ रहा हो, लेकिन अब देखने को मिल रहा है।
अपने बेबाक अंदाज के लिए पहचान रखने वाली कंगना हर मुद्दे पर खुलकर बोलती हैं और गंभीरता के साथ सामने वाले की बात सुनती हैं। ड्रग मामले को लेकर कंगना ने राज्य सरकार और बॉलवुड पर निशाना साधा।

कंगना ने कहा था कि ‘फिल्म माफिया’ की बजाय उन्हें मुंबई पुलिस से डर लगता है। उन्होंने ये भी कहा था कि बॉलीवुड में ड्रग माफिया का पर्दाफाश करने के लिए उन्हें हिमाचल पुलिस की सुरक्षा की जरूरत पड़ेगी।

कंगना के इस बयान के बाद संजय राउत ने कहा, हम उनसे अपील करते हैं कि मुंबई न आएं, आपके इस बयान से मुंबई पुलिस का अपमान हुआ है।‘ इसके बाद कंगना रनौत ने कहा कि मुंबई में POK जैसा महसूस क्यों हो रहा है। इस बयान के बाद कई अभिनेता-अभिनेत्रियों ने कंगना को लेकर ट्वीट किए।