शिमला। कोरोना काल में कोई भी गड़बड़ी हुई तो आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा, ये कहना है मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का।

सीएम बोले, हमने निदेशक पर कार्रवाई की है। आपके समय में ऐसा होता तो आप ऐसा न कर पाते। हमने अन्य मामलों में भी ऐसा किया। मुख्यमंत्री ने यह बात मंगलवार को भोजनावकाश के बाद स्थगन प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान तब कही, जब कांग्रेस विधायक सुखविंदर सुक्खू सरकार पर भ्रष्टाचार को संरक्षण देने का आरोप लगा रहे थे।

सुक्खू ने सीएम पर शिमला में लिफ्ट के पास सामाजिक दूरी की धज्जियां खुद उड़ाने का और एक एसडीएम का राजनीतिक आधार पर तबादला करने का आरोप लगाया तो सीएम ने कहा-सुक्खू हमारे मित्र हैं।

इनके पास लंबे समय तक कांग्रेस का अध्यक्ष रहने का तुजुर्बा है। एसडीएम के तबादले के तथ्य अलग हैं। इसमें कोई राजनीति नहीं। सीएम बोले, जिस बात को इन्होंने कहा कि नियमों की धज्जियां उड़ाई गईं। उसमें ऐसा कुछ नहीं हुआ। उचित दूरी रखी गई। एक प्रवेश के प्वाइंट पर कुछ ढील रही।