ऊना। हरोली के भदसाली गोलीकांड मामले की जानकारी देते हुए सीएम जयराम ठाकुर ने सदन में कहा कि सभी आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है और अब न्यायिक जांच की जरूरत महसूस नहीं हो रही है. मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर सदन में नेता प्रतिपक्ष और हरोली के कांग्रेस विधायक मुकेश अग्निहोत्री की ओर से लाए गए ध्यानाकर्षण प्रस्ताव पर यह जानकारी दे रहे थे.

मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि देवभूमि में गोली चलना चिंता का विषय है. उनके हलके में यह गोली कांड राजनीतिक संरक्षण के चलते हुआ है. चुने हुए लोगों को जब पीछे करेंगे और मनोनीत को आगे करेंगे तो अव्यवस्था होगी. सिस्टम की निष्क्रियता के कारण चौकीदार की हत्या हो गई. इस मामले की न्यायिक जांच की जाए. जो असंवैधानिक संस्थाएं दनदना रही हैं, उन पर अंकुश लगाया जाए.

मुख्यमंत्री ने कहा कि जमीन से संबंधित विवाद के बाद यह हत्या हुई है. सरकार के राजस्व विभाग में करेक्शन डिमारकेशन के लिए मामला भेजा है. हौदियों को पक्का करने पर यह विवाद हुआ. अश्वनी चौकीदार की छाती पर दुनाली बंदूक से गोली मारी गई. आरोपी गिरफ्तार हैं. बंदूक जब्त कर ली गई है. बंदूक का लाइसेंस जम्मू-कश्मीर से बनाया गया है. मामले की जांच को एसआईटी बनाई गई है.

फोरेंसिक विशेषज्ञों ने भी साक्ष्य जुटाए हैं. इस मामले में किसी का दबाव नहीं है. जांच के कहीं से प्रभावित होने की कोई गुंजाइश नहीं है. न ही कोई राजनीतिक दबाव जैसी बात सामने आई है। जो भी जरूरी होगा, उस पर कार्रवाई होगी.