शिमला। हिमाचल विधानसभा के मानसून सत्र का सातवां दिन भी हंगामेदार रहा. विपक्ष ने स्पीकर के चैंबर के बाहर धरना दिया. विपक्ष के इस धरने पर सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि आज जो विधानसभा में हुआ है वो कभी नहीं हुआ है. विपक्ष को अपनी बात स्पीकर से करनी चाहिए थी. स्पीकर सत्तापक्ष और विपक्ष के विधायकों की बात सुनते हैं और जो भी प्रश्न पूछे जा रहे हैं उनका उत्तर दिया जाता है. नोटिस भी चर्चा के लिए आ रहे हैं जिन पर स्पीकर की अनुमति से चर्चा हो रही है.

विपक्ष के वॉकआउट पर भी सीएम जयराम ठाकुर ने तीखा पलटवार करते हुए कहा कि विपक्ष ने बेनामी सौदों पर कार्यस्थगन प्रस्ताव देकर चर्चा मांगी थी, जिसे स्पीकर ने स्वीकार नहीं किया. सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि बेनामी सौदों पर नोटिस को लेकर विधानसभा अध्यक्ष ने पहले ही स्पष्ट कर दिया था कि इसमें सरकार से टिप्पणी मांगी गई है, लेकिन विपक्ष शोर डालता रहा और बाद में सदन से बाहर चला गया. सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि विपक्ष केवल खबरों में बने रहने के लिए ऐसा कर रहा है. ऐसे में जिस दायित्व के साथ हमें विधानसभा भेजा गया है वो पूरा नहीं हो रहा है.