शिमला। हिमाचल के बिलासपुर स्थित कंदरौर पुल के पास 14 सितंबर की रात को हुए टैक्सी चालक हरीश कुमार की हत्या मामले में मंगलवार को ऑल हिमाचल टैक्सी ऑपरेटर एसोसिएशन ने सीएम से मुलाकात की और ज्ञापन सौंपा. टैक्सी एसोसिएशन की मांग है कि मृतक हरीश कुमार की विधवा पत्नी को सरकारी नौकरी और परिवार वालों को आर्थिक मदद दी जाए.
टैक्सी चालकों का कहना है कि वह एक सामान्य से परिवार से संबंधित था। साथ ही न्याय की मांग भी की. देवभूमि ऑल हिमाचल टैक्सी आप्रेटर एसोसिएशन के संस्थापक नरेंद्र ठाकुर और कानूनी सलाहकार बलविंद्र सिंह ने कहा कि जिस तरह से हत्या की घिनौनी वारदात को अंजाम दिया गया है. उस तरह से सभी दोषियों को फांसी की सजा होनी चाहिए.
गौरतलब है कि टैक्सी चालक हरीश कुमार की जिस दिन हत्या हुई है. उस दिन चार लोग उसकी टैक्सी बुक करके चिंतपूर्णी के लिए ले गए थे. रास्ते में कंदरौर पुल से पहले इन चारों से टैक्सी चालक पर तेज हथियार से हमले किए. इसी बीच एक ट्रक वहां से गुजर रहा था. घायल अवस्था में हरीश कुमार ट्रक के आगे खड़ा हो गया और उसे रोककर ट्रक चालक से मदद मांगी. इसके बाद पुलिस भी मौके पर पहुंची और अस्पताल में हरीश कुमार की ईलाज के दौरान मौत हो गई. पुलिस ने चुस्ती दिखाते हुए चारों आरोपियों को कार सहित गिरफ्तार भी कर लिया है. अब मामले में जांच चल रही है.