शिमला। सीएम जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में शनिवार को हुई हिमाचल कैबिनेट बैठक में कई अहम फैसले लिए गए. कैबिनेट ने विधायक क्षेत्र विकास निधी योजना को मंजूदी दी. साल 2020-21 के लिए 50 लाख रुपये का इसमें प्रावधान किया गया है. 25 लाख रुपये प्रत्येक निर्वाचन क्षेत्र को अक्टूबर 2020 में जारी होंगे। 25 लाख की दूसरी किश्त पंचायती राज संस्थाओं के चुनावों के बाद जारी होगी।
कैबिनेट के फैसले
कैबिनेट ने शिमला के रिज मैदान पर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की प्रतिमा स्थापित करने का निर्णय लिया. हिमाचल प्रदेश वित्त नियम-104 के तहत भाषा, कला और संस्कृति विभाग द्वारा प्रस्तावित मूर्तिकारों पदम श्री और पदम विभूषण अवार्डी राम वी सुतार और अनिल सुतार को यह काम आवंटित करने का भी निर्णय लिया गया।
कैबिनेट ने 1 अक्तूबर 2020 से राज्य के औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों में प्रशिक्षण गतिविधियों को फिर से शुरू करने के लिए अपनी मंजूरी दे दी।
कांगड़ा जिले में हिमानी-चामुंडा रोपवे परियोजना के लोअर टर्मिनल प्वाइंट के लिए भूमि के हस्तांतरण के संबंध में राज्य सरकार और मंदिर न्यास चामुंडा के बीच समझौता ज्ञापन के मसौदे को मंजूरी दी गई।
सैनिक कल्याण विभाग में उप निदेशक के सात पदों को भरने के लिए अपनी स्वीकृति दी।
कैबनेट ने लोगों को बेहतर आयुर्वेदिक चिकित्सा सेवा प्रदान करने के लिए दैनिक वेतन आधार पर आयुर्वेद विभाग में पंचकर्म मसाज के 35 पदों को भरने के लिए अपनी सहमति दी। आयुर्वेद विभाग का नाम बदलकर आयुष विभाग हिमाचल प्रदेश करने का भी निर्णय लिया गया।
कैबिनेट ने आयुष स्वास्थ्य और कल्याण केंद्रों के लिए आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केंद्र के उन्नयन के लिए भारत सरकार के उद्यम निदेशक आयुर्वेद और मेसर्ज एचएलएल लाइफकेयर लिमिटेड के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर करने को अपनी मंजूरी दी। सीधी भर्ती के माध्यम से योजना विभाग में विभिन्न श्रेणियों के आठ पदों को भरने के लिए भी अपनी स्वीकृति दी